Split Meaning in Hindi STOCK SPLIT से क्या फायदा होता हैं Hindi

Split Meaning in Hindi, STOCK SPLIT से क्या फायदा होता हैं Hindi :- Hello फ्रेंड्स जैसा की यदि आप हमारे रोज़ के रीडर है तो आप जानते ही होंगे की हम अपनी वेबसाइट शेयर विभाजन के फायदे advantages of stock split  पे आपके लिए हर दिन शेयर मार्केट से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी शेयर करते है ताकि आपको शेयर मार्केट (share market)से जुड़ी हर जानकारी मिल सके और आप आसानी से शेयर मार्केट में अपना पैसा लगाकर मतलब की शेयर खरीदकर और बेचकर अच्छा मुनाफ़ा कमा सके। तो आज भी हम आपके लिए share market से जुड़ी एक बेहतरीन पोस्ट को लेकर आयें जो कि यदि आप शेयर मार्केट से जुड़े है और शेयर market में अपना पैसा invest करते है तो आपके लिए यह पोस्ट बेहद महत्वपूर्ण होने वाली है। जी हां आज हम इस पोस्ट में शेयर विभाजन से जुड़ी जानकारी लेकर आयें है जैसे कि split meaning in hindi शेयर विभाजन क्या है, शेयर विभाजन के क्या फायदे है, Split का अर्थ क्या होता है ऐसे ही अन्य कई महत्वपूर्ण जानकारियां जो हमने इस पोस्ट में कवर की है।

शायद यदि  शेयर मार्केट के इन्वेस्टर है और किसी कंपनी से शेयर खरीदते है तो ज़रूर आपने शेयर विभाजन, स्प्लिट जैसे वर्ड का नाम सुना होगा। लेकिन शायद आपने इसके बारे में जानने की कोशिश नही की होगी। और यदि की भी होगी तो आपको गूगल पर इसकी जानकारी नही मिली होगी। क्योकि गूगल पर शायद के कुछ ही ऐसी वेबसाइट है जो शेयर मार्केट से जुड़ी जानकारी शेयर करती है ऐसे में लोगों को शेयर मार्केट के बारे में अधिक जानकारी नही मिल पाती है। तो Friends इसलिए हमारी कोशिश रहती है कि आपको हमारी वेबसाइट anjan tech research पर शेयर मार्केट से जुड़ी वह हर जानकारी मिले जिसके बारे में आप अंजान है और आप उसके बारे में जानना चाहते है। सो फ्रेंड्स यदि आप शेयर मार्केट में शेयर विभाजन क्या है, इसके क्या फायदे है, और स्प्लिट, स्टॉक का शेयर मार्केट में क्या अर्थ है इस तरह की जानकारी से अंजान है तो यह पोस्ट आपके लिए बेहद useful होनी वाली है इसलिए इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक अंत तक जरूर पड़े ताकि आपको split meaning in hindi शेयर विभाजन, स्प्लिट से जुड़ी पूरी और उचित जानकारी मिल सके तो चलिये जानते है-

विभाजन, स्टॉक, स्प्लिट शेयर बाजार share bazar के ऐसे वर्ड है जो एक इन्वेस्टर के लिए अक्सर सुनने के लिए मिलते है। विभाजन जिसका सीधा सा मतलब होता है किसी चीज को कई जगह बांट देना इस तरह से विभाजन के बारे में सभी जानते है लेकिन अब विभाजन का शेयर मार्केट में क्या मतलब होता है, या फिर शेयर विभाजन क्या है इसके बारे में लोग अधिक नही जानते है। लेकिन हम आपको बता दे की यदि आप शेयर बाजार में निवेश करने वाले है या कर चुके और शेयर बाजार से अधिक मुनाफ़ा कमाना चाहते है तो यह काफी जरूरी होता है कि आपको शेयर मार्केट से जुड़ी हर वह जानकारी चाहे वह विभाजन, स्टॉक, स्प्लिट, रिवर्स स्टॉक स्प्लिट stock split जैसी कोई भी जानकारी हो सभी के बारे के उचित जानकारी होना बेहद जरूरी है। तो चलिये क्यो ना अब इस विभाजन, स्टॉक, स्प्लिट, रिवर्स स्टॉक स्प्लिट के बारे में एक-एक करके विस्तार में जान ले। तो चलिये दोस्तों समय ना बर्बाद करते हुए हम सीधे अपनी बात पर आते है- और एक-एक करके सबके बारे में विस्तार से जानते है-

Stock अर्थ

हर व्यक्ति जब शेयर मार्किट Market में निवेश करता है तो वह यही सोच कर निवेश करता है कि उसके मार्केट से ज्यादा मुनाफ़ा हो ऐसे ही हर कंपनी का पैसा कमाने का एक अपना लक्ष्य होता है। इसके लिए कंपनी कई तरह के हथकंडे अपनाती है। और यदि बात करे स्टॉक अर्थ की तो इसमे ऐसा होता है कि जब किसी कंपनी को ज्यादा पैसे धन की आवश्यकता होती है तो उनके पास धन को इकट्ठा करने के दो तरीके होते है पहला की वह कंपनी किसी से वह पैसा उधार ले ले या फिर वह कंपनी अपने अधिक से अधिक शेयर को बेचकर मार्किट में निवेश करने वाले निवेशक से अधिक पैसा कमा सके। अब इस धन के लिए जो शेयर कंपनी बेचती है उसे हम स्टॉक कहते है। मतलब की निवेशक हाथ कंपनी अधिक धन इकट्ठा करने के लिए जो शेयर बेचती है उसे हम स्टॉक कहते है और यही स्टॉक का अर्थ होता है। स्टॉक का अर्थ हम इसे भी कहे सकते है जो कंपनी अधिक धन इकट्ठा करने के लिए निवेशक के साथ शेयर बेचती है तो निवेशक इस कंपनी का हिस्सेदार या कहे कि कुछ हिस्से का मालिक बन जाता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जब कोई कंपनी अपने किसी आवश्यक कार्य या ज़रूरतों को पूरा करने के लिए स्टॉक शेयर बेचती है तो आमतौर पर इस स्थिति में कंपनी की आये काफी बढ़ जाती है। मतलब की कंपनी के स्टॉक की कीमत Increase हो जाती है और इससे जो भी निवेशक उस कंपनी से स्टॉक खरीदते है उसकी भी आमदनी बड जाती है क्योंकि निवेशक किसी भी शेयर को जीतने में खरीदते है वह उसे इससे अधिक पैसे में शेयर बाजार में बेच सकता है जिससे कंपनी के साथ साथ निवेशक को भी अच्छा मुनाफ़ा मिल जाता है।

Split का अर्थ

हमने आपको अपनी पिछली post में बोनस Bonus क्या है इसके बारे में बताया जिसका लिंक आपको नीचे मिल जाएगा अब आप सोचेंगे कि यह बात हम आपको यह क्यो बता रहे है तो हम आपको बता दे कि यह इसलिए बता रहे है क्योंकि स्प्लिट भी एक बोनस की तरह ही होता है। जिस तरह से कोई कंपनी बोनस जारी करती है बैसे ही कंपनी स्प्लिट जारी करती है। स्प्लिट में कंपनी किसी भी शेयर की फेस वैल्यू Face Value को डिवाइड करती है मतलब की उनका विभाजन कर देती है। अक्सर स्टॉक स्प्लिट में कंपनी की शेयर की संख्या बढ़ जाती है। लेकिन इससे शेयर कैपिटल वैल्यू capital volume और मार्किट वैल्यू market volume में कोई फर्क नही पड़ता है।

इसे भी पड़े Bonus 

Stock Split Definition

stock split एक तरह किसी भी कंपनी की शेयर के विभाजन की एक कोपरेट क्रिया होती है। split meaning in hindi जिसमे शेयर को कई जगह विभाजित कर दिया जाता है। और यह ऐसा करने से स्टॉक स्प्लिट में शेयर की कीमत काफी ज्यादा हो जाती है। जिस कारण शेयर बाजार में निवेश करने वाले निवेशक भी सोचते है कि शेयर की कीमत अब शेयर बाजार में काफी है इसे कीमत में खरीदना मुश्किल है। लेकिन वही दूसरी तरफ स्टॉक स्प्लिट से स्टॉक शेयर के मौलिक मूल्य पर कोई भी प्रभाव नही पड़ता है। इसलिए यहाँ निवेशकों को ज्यादा मुनाफ़ा भी नही होता है।

शेयर विभाजन क्या है

जब किसी शेयर को कई जगह बांटा जाता है मतलब कि शेयर का विभाजन किया जाता है तब हम उन्हें शेयर विभाजन कहते है। हम इसे ऐसे भी कहे सकते है कि जब किसी भी कोई कंपनी शेयर मार्केट share market में शेयर की संख्या बढ़ानी होती है तब कंपनी इस तरह का निर्णय लेती है। अब शेयर विभाजन में होता है ये की जो शेयर की फेस वैल्यू होती है उसे कम किया जाता है और शेयर की संख्या को बढ़ाया जाता है। जैसे कि हम इसे एक उदाहरण के तौर पर समझे तो जैसे कि किसी कंपनी का एक शेयर का वैल्यू 40 रुपये है मतलब की यह शेयर फेस वैल्यू है। तो अब अगर इस फेस वैल्यू को कम करके 10 कर देंगे यहां शेयर की संख्या 9 से लेकर 20 तक बढ़ जाएगी। जिसे हम शेयर विभाजन कहते है।

शेयर विभाजन के फायदे advantages of stock split

शेयर विभाजन से किसी भी कम्पनी को क्या- क्या फायदे हो सकते है उनके  बारे आप नीचे पड़ सकते है-

  • शेयर विभाजन करने से कम्पनी के शेयर की संख्या बढ़ जाती है और निवेशक को वह शेयर कुछ सस्ते लगने लगते है जिससे उस कम्पनी  काफी बिकने लगते है और कम्पनी को इससे काफी फायदा मिलता है.
  • शेयर विभाजन करने से कम्पनी की शेयर बाजार में वैल्यू बढ़ जाती है.
  • इसके अलावा शेयर विभाजन में शेयर की संख्या ज्यादा  हो जाती है  जिससे  कम्पनी के शेयर में लिक्विडिटी की समस्या कम हो जाती है.

रिवर्स स्टॉक स्प्लिट

अक्सर कंपनी जब शेयर धारक के पास अधिक मूल्य पर कम शेयर होते है तब कंपनी एक रिसर्व स्प्लिट reverse split जारी करती है। ताकि वह शेयर धारकों को शेयर बाजार में एक तरलता प्रदान कर सके।

स्टॉक स्प्लिट से इन्वेस्टर Investor और Company का क्या फायदे

शेयर बाजार में किसी भी शेयर को इसीलिये स्प्लिट किया जाता है ताकि कंपनी को ज्यादा मुनाफा हो और उसके investor की संख्या अधिक से अधिक हो सके और अपने इन्वेस्टर से ज्यादा धन कमा कर इकट्ठा कर सके। लेकिन आपको बता दे कि अक्सर इन्वेस्टर ऐसा सोचते है कि जब कोई कंपनी स्प्लिट स्टॉक जारी करती है तो सिर्फ कंपनी को ही मुनाफा होता है तो हम आपको बता की ऐसा बिल्कुल भी नही स्टॉक स्प्लिट जारी करने पर कंपनी के साथ साथ इन्वेस्टर को भी मुनाफा होता है जिसके बारे में आप यहां पड़े।सकते है- split meaning in hindi

  • जब कोई कम्पनी स्टॉक स्प्लिट करती है तो इसमे कभी -कभी शेयर के दाम बढ़ जाते है इससे कंपनी को तो फायदा होता ही इसके साथ ही इन्वेस्टर को भी काफी फायदा होता अब जैसे कि किसी निवेशक ने किसी शेयर को 100 रुपये में खरीद तो वह उसे शेयर बाजार में दुगनी क़ीमत में बेच सकता है। और शेयर बाजार से अधिक मुनाफा कमा सकता है।
  • स्टॉक स्प्लिट में शेयर के बाजार में फेस वैल्यू और मार्किट वैल्यू काफी कम हो जाती है। जिसे कंपनी को काफी फायदा होता है। जैसे की किसी शेयर की मार्किट वैल्यू और फेस वैल्यू दोनों कम हो जाती है तो इससे निवेशक को शेयर काफी सस्ते लगने लगते है। और कोई भी आम निवेशक उन शेयर को ख़रीद सकता है। जिससे कंपनी के शेयर ज्यादा बिकते है और कंपनी को इससे काफी मुनाफ़ा मिलता है।

Upcoming Stock Split 2019 ( स्टॉक स्प्लिट )

संक्षेप

शेयर बाजार में किसी भी शेयर को शेयर विभाजन (Stock Split)  कम्पनी के शेयर की संख्या बढ़ जाती है. और उस कम्पनी के शेयर निवेशक को काफी सस्ते लगने लगते है. जिससे  इन्वेस्टर की संख्या काफी बढ़ जाती है. जिससे कम्पनी की आमदनी में काफी इजाफा होता है. बैसे  की जब किसी कम्पनी को  अधिक पैसा कमाना होता है तब कम्पनी अक्सर शरधारको को लुभाने के लिए  शेयर बाजार में शेयर विभाजन (Stock Split) कर देती है. कम्पनी के साथ- साथ शेयर विभाजन (Stock Split) में शरधारक को भी काफी मुनाफा होता है. जिसके बारे में हम ऊपर विस्तार से जान ही चुके है. split meaning in hindi

तो दोस्तों ये थी हमारी आज की पोस्ट जिसमे हमने शेयर विभाजन (Stock Split) की सही जानकारी के बारे जाना। इस लेख में हमने शेयर विभाजन (Stock Split) स्टॉक स्टॉक, स्प्लिट रिसर्व आदि के बारे में विस्तार से  हिंदी में जाना। आशा करता हूँ की आपको आज के इस लेख में दी गयी शेयर विभाजन (Stock Split)  के बारे जानकारी समझ आ गयी होगी और आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। यदि फिर भी आपको इस लेख में कुछ समझ नहीं आया हो या फिर शेयर विभाजन (Stock Split) से जुड़ा कोई सवाल आपके मन में है तो आप हमे नीचे कमेंट करके पूछ सकते है। हमारी टीम बहुत जल्द आपसे जुड़कर आपकी पूरी सहायता करेगी। इसके साथ ही यदि दोस्तों आपको हमारी आज की पोस्ट अच्छी लगी हो या फिर उपयोगी रही हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया social media जैसे फेसबुक Facebook ,व्हाट्सप्प Whatsapp आदि पर शेयर जरूर करे ताकि सभी को शेयर विभाजन (Stock Split) में पूरी और उचित जानकारी मिल सके। इसी तरह की शेयर मार्किट से जुडी जानकारी पाने के लिए हमारी साइट से जुड़े रहे हमारी कोशिश रहेगी की आपको हर दिन शेयर मार्किट बारे में कुछ ना कुछ नया शेयर करते रहे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top