इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है in Hindi |Intraday Trading Kya Hai

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी में पूरी जानकारी :- Hello Friends दुनिया मे हर व्यक्ति चाहता है कि एक समय मे काफी पैसा कमाया जाए लेकिन Intraday Trading Kya Hai Hindi ये तो हम सभी जानते है कि आज दुनिया भर में पैसा कमाना काफी कठिन काम हो गया। एक साथ ज्यादा पैसे कमाने के लिए काफी मेहनत करनी होती है तब जाकर कही कम समय मे पैसा कमाया जा सकता है। लेकिन शेयर बाजार एक ऐसी जगह है जहां कम मेहनत के साथ अधिक से अधिक पैसा कमाया जा सकता है वो भी काफी कम समय मे यदि आप शेयर बाजार के बारे में जानकारी रखते है तो अपने इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में ज़रूर सुना होगा यह शेयर बाजार का ऐसा विकल्प है जहां से सुबह में पैसा लगाकर शाम तक काफी पैसा कमाया जा सकता है। आप शेयर बाजार में इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में जानते है या नही लेकिन आपको इस पोस्ट में इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में आज बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी मिलने वाली है। जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाली है। क्योंकि आज इस आर्टिकल में हम इंट्रा डे ट्रेडिंग क्या है, इंट्रा डे ट्रेडिंग के क्या फायदे है, इंट्रा डे ट्रेडिंग में सेल कैसे करे या फिर इंट्रा डे ट्रेडिंग में क्या रिस्क है इसी तरह की अन्य जानकारी जो सीधे इंट्रा डे ट्रेडिंग से जुड़ी है के बारे में विस्तार से बताने जा रहे है। तो दोस्तो यदि आप शेयर बाजार से अधिक से अधिक पैसा कमाना चाहते है तो इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में आपको पता होना बहुत जरूरी है। So यदि आप शेयर बाजार से सुबह से शाम तक अधिक मुनाफे के साथ पैसा कमाना चाहते है तो इस लेख को पूरा।नीचे तक ध्यान पूर्वक पड़े ताकि आपको इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में उचित और पूरी जानकारी मिल सके और आप भी इंट्रा डे ट्रेडिंग के अंतर्गत शेयर बाजार से अधिक मुनाफे के साथ पैसा कमा सके। तो चलिये जानते है- इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी Intraday Trading Kya Hai Hindi

शेयर बाजार में इंट्रा डे ट्रेडिंग करके अधिक पैसा कमाने के लिए एक बेहतरीन प्लानिंग करनी होती है। जैसे कि इंट्रा डे ट्रेडिंग करके शेयर बाजार से अधिक पैसा कमाना चाहते है तो सबसे पहले आपको एक अच्छी कंपनी को चुनकर डीमेंट खाता खुलवाना पड़ता है। जिससे कि आप अपने ब्रोकर को फोन पर आर्डर करके शेयर बाजार का कारोबार करा सकते है या फिर आप चाहे तो इस ऑनलाइन भी कर सकते है। आपकी बेहतर जानकारी के लिए बता दे की इंट्रा डे ट्रेडिंग में सभी ब्रोकर अपने ग्राहकों के इंट्रा डे ट्रेडिंग करने के लिए कुछ पैसे भी देते है। जिससे कि उस।मनी से शेयर ख़रीद और उसे बेचा जा सके। इंट्रा डे ट्रेडिंग में कोई भी कम पैसो के साथ शेयर बाजार में इन्वेस्टमेंट करके शुरू कर सकता है। इस ट्रेडिंग में शुरू की शेयर की कीमत में लगभग 20 से 30 फीसदी।सुबह लगाना होता है। और अधिक मुनाफे के साथ शाम तक पैसा बापस मिल जाता है।चलिये इन सभी के बारे में हममें नीचे डिटेल में बताया इसीलिए इंट्रा डे ट्रेडिंग में सेल कैसे करे या फिर इंट्रा डे ट्रेडिंग में क्या रिस्क है ऐसी अन्य जानकारी के लिए इस पोस्ट पोस्ट को पूरा पढ़े-

इंट्राडे ट्रेडिंग का अर्थ क्या है

सभी जानते है कि शेयर बाजार से सुबह से शाम तक चलती है जिसमे दिन भर में काफी शेयर खरीदे व बेंचे जाते है। शेयर बाजार में निवेशक हर दिन शेयर को खरीदकर और बेचकर काफी मुनाफ़ा कमाते है। बाकी हम बात करे कि इंट्रा डे ट्रेडिंग क्या है तो आपको एक दम सरल भाषा मे बता दे कि जिस शेयर को शेयर बाजार से खरीद जाता है और उसी दिन उसे शेयर।बाजार में बेच दिया जाता है तो हम उसे इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते है। जैसे की 9 बजे शेयर मार्केट खुलता है और शाम 5 बजे तक बेंच देते है तो इसे हम इंट्रा डे ट्रेडिंग कहे सकते है। आपकी बेहतर जानकारी के लिए बता दे कि इंट्रा डे ट्रेडिंग में आपको शेयर खरीदने और बेचने की लिमिट काफी मिल जाती है। लिमिट जैसे की मतलब आपने 10000 रुपये लेकर अपने डीमेंट खाते में डालकर शेयर बाजार में पैसा लगाना शुरू।किया तो यहां इंट्रा डे ट्रेडिंग में आपको कुछ brokers मिलते है जो आपको कोई 3 टाइम देता कोई 4 टाइम देता तो कोई 10 टाइम देता है। अब यहां मान लीजिए की कोई ब्रोकर आपको 10 टाइम देता है। तो इसका मतलब ये हुआ कि आप शेयर बाजार से 10000 से 100000 एक लाख तक के शेयर खरीद सकते है। तो ऐसे में आप इंट्रा डे ट्रेडिंग करते हो और आपने लिमिट का उपयोग कर लिया है तो मतलब की आपने 10000 लगाकर 100000 का शेयर खरीद लिया है तो उसे शाम तक इसीलिए बेचना जरूरी होता है क्योंकि जो ब्रोकरेज है वो कंडिशन लगा रखा है। कि आपको उन्ही दिन में शेयर बेचना होता है। जिसे हम इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते है। इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी Intraday Trading Kya Hai Hindi

क्या इंट्राडे ट्रेडिंग में मुनफा होता है

हम आज शेयर बाजार में इंट्रा डे की बात कर रहे तो आपको बता दे कि शेयर बाजार एक ऐसी जगह है जहां से हर कोई मुनाफा कमाना चाहता है। और बात रही इंट्रा डे में ट्रेडिंग करने पर मुनाफा होगा या घाटा की तो जैसा की हम आपको ऊपर बता ही चुके है कि इंट्रा डे शेयर को उसी दिन में खरीदकर बाजार बंद होने तक उसी दिन बेचना होता है। तो इस परिस्थिति में आपको घाटा भी हो सकता है और नुकशान भी हो सकता है। लेकिन यदि आप इंट्रा डे में सही समय पर अपना शेयर सेल करते है तो आपको मुनाफा ही होगा बैसे मैं आपको अपने नजरिये से बताऊं तो इंट्रा डे में।काफी लोग ट्रेडिंग करते है और ज्यादातर सभी को मुनाफा हो ही मिलता है बस आपका ट्रेड।करने का समय सही होना चाहिए और आपको शेयर बाजार में इंट्रा डे में ट्रेड कैसे करना चाहिए इसके बारे।में अच्छे से पता होना बहुत जरूरी है इंट्रा डे में सेल कैसे।करे इसके बारे में हमने नीचे विस्तार से बताया भी है। आप उसे फॉलो करके इंट्रा डे में ट्रेड करके आसानी से मुनाफा कमा सकते है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में सेल्ल कैसे करें 

इंट्रा डे ट्रेडिंग करने के लिए सेल कैसे करे इसके बारे में पता होना बहुत जरूरी है। जैसा की हम सभी जानते है कि इंट्रा डे ट्रेडिंग में शेयर को खरीदने और बेचने के।लिए।सिर्फ 6 से 7 ही घंटे होते है इसी बीच हमे शेयर को सेल करना होता है। इंट्रा डे ट्रेडिंग में सही समय पर सेल करना बहुत ही जरूरी होता है मतलब की इंट्रा डे ट्रेडिंग के लिए एक सही समय को चुनना होता है जिसमे आपको शेयर को बेचकर अच्छा मुनाफा मिल सके। यदि इंट्रा डे ट्रेडिंग में शेयर को सेल की बात करे जब शेयर मार्किट में जब तेजी हो निवेशक को उन शेयर का चयन करना चाहिये जनकी ऊपर जाने की संभावना ज्यादा हो और जब शेयर बाजार में मंदी हो तो उन शेयर का चयन करना चाहिए जो नीचे जा सकते है। मतलब की दोस्तो इसे सरल भाषा मे कहे तो शेयर बाजार में शेयर बड़ रहा है तो कुछ शेयर।काफी तेजी से आगे बढ़ते है।तो उन शेयर।में ट्रेडिंग करना चाहिए क्योंकि इनमें जोखिम की संभावना कम होती और मुनाफा ज्यादा होता है। ऐसी ही जब शेयर बाजार में शेयर नीचे गिर रहे है तो इंट्राडे ट्रेडर को बाजार में नीचे गिर रहे शेयर पर काम करना चाहिए। इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी Intraday Trading Kya Hai Hindi

इंट्राडे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में क्या मतभेद है 

यदि आप शेयर बाजार में नए है या फिर शेयर बाजारके पैसा लगाकर मुनाफा कमाना चाहते तो आपको इंट्रा डे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग के बारे में पता होना बहुत जरूरी होता है। मतलब की इंट्रा डे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में क्या अंतर इसके बारे में पता होना चाहिए। कि बार देखा जाता है कि निवेशक को शेयर बाजार में इंट्रा डे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में क्या अंतर होता है। इसके बारे में पता नही होता है। जिस।कारण कई बार उन्हें शेयर बाजार नुकसान उठाना पड़ जाता है। इसीलिए यदि आप शेयर बाजार में पैसा लगाने चाहते है तो आपको इंट्रा डे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में क्या।अंतर है इसके बारे।में पता होना।काफी जरूरी है। हमने इसके बारे में विस्तार।से बताया भी आप नीचे सकते है-

इंट्रा डे ट्रेडिंग

इंट्रा डे ट्रेडिंग में यदि किसी शेयर को खरीदकर उसी दिन बेच देते है तो उसे हम इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते है। इंट्रा डे ट्रेडिंग में ब्रोकरेज ज्यादा लगता है। इसके साथ ही इंट्रा डे ट्रेडिंग लिमिट मिल जाती है। लिमिट जैसे की मतलब आपने 10000 रुपये लेकर अपने डीमेंट खाते में डालकर शेयर बाजार में पैसा लगाना शुरू किया तो यहां इंट्रा डे ट्रेडिंग में आपको कुछ brokers मिलते है जो आपको कोई 3 टाइम देता कोई 4 टाइम देता तो कोई 10 टाइम देता है। अब यहां मान लीजिए की कोई ब्रोकर आपको 10 टाइम देता है। तो इसका मतलब ये हुआ कि आप शेयर बाजार से 10000 से 100000 एक लाख तक के शेयर ख़रीद सकते है। इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी Intraday Trading Kya Hai Hindi

यदि डिलीवरी ट्रेडिंग की बात करे तो जो हम इंट्रा डे ट्रेडिंग में कोई शेयर खरीदते है लेकिन उसे उसी दिन नही बेच पाते है और उसे अगले दिन बेचते है तो इसे हम डिलीवरी ट्रेडिंग कहते है। इसके अलावा यहां ब्रोकरेज आपको 10 टाइम देता है तो 10000 हजार तक के ही शेयर खरीद और बेच सकते है।

इंट्राडे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में कौन सा बेहतर है 

शेयर बाजार में डिलीवरी ट्रेडिंग और इंट्रा डे ट्रेडिंग में दोनों में बेहतर कौन सा यह सवाल आज काफी लोगो के मन मे रहता है। शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने से पहले डिलीवरी ट्रेडिंग और इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में कौन बेहतर ये जान लेना भी बहुत जरूरी होता है। अब इन दोनों में बेहतर कौंन सा यह शेयर बाजार।में ट्रेड करने वाले।के ऊपर निर्भर करता है। जिसके बारे में हममें नीचे विस्तार से बताया है। नीचे।पड़ने के बाद आपको अच्छे से समझ आ जायेगा की आखिर डिलीवरी ट्रेडिंग और इंट्रा डे ट्रेडिंग में दोनों में बेहतर कौन सा है तो चलिये जानते है-

डिलीवरी ट्रेडिंग

यदि शेयर बाजार में डिलीवरी ट्रेडिंग की बात करे तो यह उन ट्रेडर के लिए काफी अच्छा हो सकता है जो कुछ समय को लेकर पैसा कमाना चाहते है। यहां आप एक दिन से ज्यादा टाइम लेकर शेयर को बेच सकते है। मतलब की यदि शेयर आज नही बिका तो आप इसे कल भी बेच सकते है। लेकिन यहां आप सिर्फ 10000 तक के शेयर खरीद कर बेच सकते है।

इंट्रा डे ट्रेडिंग

इंट्रा डे ट्रेडिंग का मतलब होता है कि आपने शेयर बाजार से शेयर  दिन लिया है उसी दिन उसे बेचना होता है। लेकिन यहां आपको लिमिट मिल जाती है। और अब 10000 से 100000 तक शेयर ख़रीद और बेच सकते है। लेकिन उसी दिन बेचना है जिस दिन आपने शेयर खरीद है। उसे अगले दिन नहीं बे सकते है।

क्या हमें इंट्राडे ट्रेडिंग करना चाहिए 

यह सवाल सभी ट्रेडर के मन मे रहता है कि इंट्रा डे में ट्रेडिंग करना चाहिये या नही बैसे तो ऊपर इतना सब।कुछ समझने के बाद आपको समझ आ गया ही होगा की इंट्रा डे में ट्रेडिंग करना उचित है या नही लेकिन हम आपको फिर भी बता देते की यदि आप शेयर बाजार से कम समय मे मतलब की सुबह से शाम तक अधिक मुनाफ़ा कमाना चाहते है तो आप ज़रूर इंट्रा डे में ट्रेडिंग कर सकते है। और अधिक पैसा कमा सकते है। बहुत से ऐसे लोग है जो शेयर बाजार में इंट्रा डे ट्रेडिंग में पैसा लगाकर अच्छा मुनाफ़ा कमाते है। बस आपको ध्यान रखना है कि इंट्रा डे में आपको किस तरह से ट्रेड करना है। यदि आपको ट्रेड कैसे करना मतलब की आपको इंट्रा डे में सेल कैसे करना इसके बारे में अच्छे से समझ आ गया तो आपको इंट्रा डे में मेरी नजरिये से इंट्रा डे में ट्रेडिंग जरूर करना चाहिए। यहां से आप अच्छा।खासा मुनाफा कमा सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top